India News24x7 Live

Online Latest Breaking News

हरियाणा सरकार की नीतियों से परेशान स्वास्थ्य कर्मचारी

Featured Video Play Icon

आज दिनांक 03 जुलाई 2020को स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी यूनियन 2073 पंचकूला ने संभावित छंटनी के विरोध में स्वास्थ्य कर्मियों का विरोध प्रदर्शन डी. सी द्वारा स्वास्थ्य मंत्री हारियाणा जी को मांग पत्र दिया।

प्रदेश में फ्रन्टलाइन कोरोना योद्धाओं के रूप में कार्य कर रहे स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत 11 हजार से अधिक ठेका कर्मियों को सरकार ने निकालने की तैयारी कर ली है। इसके विरोध में सामान्य हस्पताल सेक्टर 6 में कार्यरत ठेका कर्मियों ने संभावित छंटनी के विरोध में आज लंच के समय विरोध प्रदर्शन किया गया। यह प्रदर्शन सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा व सीटू से संबंधित स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी यूनियन के बैनर के तले किया गया। इस प्रदर्शन की अध्यक्षता करते हुए यूनियन की जिला प्रधान रमा व सचिव सतीश ने कहा कि सिक्योरिटी गार्ड, सफाई कर्मचारी, वार्ड सर्वेन्ट, कंप्युटर ऑपरेटर, इलेक्ट्रिशियन, माली, धोबी, पलंबर, लिफ्ट ऑपरेटर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी आदि कच्चे कर्मचारी वर्षों से अस्पताल में कार्यरत हैं। ये हमेशा से जनता की सेवा में ईमानदारी से लगे रहे हैं।

आज महामारी के समय भी सभी कर्मचारी अपनी जान जोखिम में डाल कर मरीजों की सेवा में लगे हुए हैं। इस आपदा के समय सरकार अपने दोगुना वेतन देने का वादा निभाने की बजाय कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का प्रयास कर रही है। करन दिवाकर प्रदेश उपाध्यक्ष सयुंक्त कर्मचारी मंच ने भी स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी
सर्व कर्मचारी संघ को दिया अपना समर्थन। सरवन कुमार जाघडा जी ने सभी कर्मचारियों का मनोबल बढाया। हरियाणा के जिला सचिव विजय पाल सिंह व वरिष्ठ उपप्रधान रणधीर राघव ने स्वास्थ्य कर्मियों की मांगों का समर्थन किया। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि यदि किसी भी कर्मचारी की छंटनी की गई तो पूरे प्रदेश का कर्मचारी सड़क पर उतर कर सरकार की कर्मचारी विरोधी व जनविरोधी नीतियों का विरोध करेगा।
मुख्य मांगें:-
सरकार ने जो 2014 मे जो कर्मचारियों के लिए वायदे किये थे उन्हें पुरा किया जाए।
1. स्वास्थ्य सुरक्षा ठेका कर्मचारी सहित किसी भी ठेका कर्मचारी को नौकरी से ना निकाला जाए।
2 होम गार्ड लगाने का व नए टेंडर जारी कर भर्ती करने की प्रक्रिया पर तुरंत रोक लगाई जाए।
3. ठेकेदारों को बाहर कर तमाम स्वास्थ्य ठेका कर्मचारियों को सरकार अपने पे रोल पर ले।
4. वेतन कम से कम 21 हजार रुपये दिया जाए।
5. कोराना महामारी के दौरान सभी स्वास्थ्य कर्मियों को दोगुना वेतन दिया जाए।
6. कोराना से सुरक्षा के लिए पूरे सुरक्षा उपकरण दिए जाएं।

जारीकर्ता
रमा
जिला प्रधान,
स्वास्थ्य ठेका कर्मचारी यूनियन, जिला पंचकुला
7837047490

लाइव कैलेंडर

April 2024
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930  

LIVE FM सुनें